फ़रवरी 5, 2023

‘आनंद’ के सेट पर जब अमिताभ बच्चन से परेशान हो गए राजेश, बाद में गोविंदा भी रह गए थे बेचैन, दिलचस्प है किस्सा

'आनंद' के सेट पर जब अमिताभ बच्चन से परेशान हो गए राजेश, बाद में गोविंदा भी रह गए थे बेचैन, दिलचस्प है किस्सा

‘आनंद’ के सेट पर जब अमिताभ बच्चन से परेशान हो गए राजेश, बाद में गोविंदा भी रह गए थे बेचैन, दिलचस्प है किस्सा

नई दिल्ली। अमिताभ बच्चन (अमिताभ बच्चन) बॉलीवुड के शान हैं। वह फिल्म इंडस्ट्री पर 54 साल से राज कर रहे हैं। अब बिग बी भले ही 80 साल के हो गए हों लेकिन उनका जोश, जुनून और रुतबा वैसा ही है जैसा आज से 5 दशक पहले हुआ करता था। इसके साथ ही अमिताभ अभी समय के पाबंद हैं, वह आज भी निर्धारित समय पर काम पूरा करना पसंद करते हैं। ये इतनी बड़ी संख्या में हैं जो उन्हें और उनमें से बहुत अलग बनाते हैं। हालांकि कई बार वह अपनी इस खूबी की वजह से अपने को-स्टार्स की आंखों की किरकिरी भी बना लेते हैं। उनकी लाइफ में एक ऐसा भी दौर है, जब बॉलीवुड के सुपरस्टार सितारे (राजेश खन्ना) ने उनकी तुलना ‘क्लर्क’ से कर दी। इसके बाद उनकी लाइफ में वो भी समय आया जब कई सुपरस्टार उनकी इस खूबी से डरने भी लगे थे। प्राधिकरण जानते हैं इसके बारे में डिटेल्स से…

साल 1971 में मुझे ऋषिकेश मुखर्जी ‘आनंद’ की याद आएगी। इस फिल्म में अमिताभ बच्चन को राजेश बच्चन के साथ देखा गया था। यह फिल्म सुपरहिट साबित हुई थी। अपने स्ट्रगलिंग सीक्वेंस में जहां अमिताभ राजेश की बेटियां सातवें आसमान पर थीं, वहीं राइट्स राइट्स बिग बी की समय की पाबंदियां रास नहीं आती थीं।

राजेश यूजर्स इंतजार कर रहे थे
अंगिग शुरू से ही फिल्मों के सेट पर हमेशा समय पर पहुचंते हैं। वहीं अन्य सितारे कास्ट टाइम पर नहीं आने के लिए बदनाम थे। उनमें से एक राजेश फाइलें ही थीं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक राजेश फिल्मों के सेट पर देर से आने के लिए जा सकते हैं। वीरेंद्र कपूर की किताब ‘एक्सलेंस: द अमिताभ बच्चन वे’ में एक घटना का जिक्र करते हुए लिखा गया है कि ‘आनंद’ के सेट पर कई बार ऐसा हुआ कि अमिताभ बच्चन को डायरेक्ट्रेट करने के लिए मजबूर होना पड़ा। हालांकि उन्होंने कभी इस बारे में किसी से कोई शिकायत नहीं की जबकि उल्टे राजेश पासपोर्ट को ही उनसे इस बात की शिकायत थी कि वो इतनी जल्दी कैसे आ जाता है।

गोविंदा की बर्बादी की ये है असली वजह, इस गलती से हुआ हिट करियर, जानिए उनके अर्श से फ़र्श पर आने की असल वजह

 

क्लार्क समय के पाबंद होते हैं-राजेश यादें
‘एक्सलेंस: द अमिताभ बच्चन वे’ किताब में एक जगह एक इंटरव्यू के बारे में बताया गया है कि अनुशासनप्रिय बहुत को राजेश योग्यता उन्होंने बेहद गलत तरीके से लिया क्योंकि उस समय के अक्षय पात्र बड़े सितारे थे। अमिताभ बच्चन ने जब हिंदी फिल्म में कदम रखा था तब सितारों ने बॉलीवुड में सुपरस्टार के स्तर हासिल कर लिए थे।

वह राजेश जिम्मेदारियों का सबसे सटीक दौर था। वे स्टारडम का आनंद ले रहे थे और दिशानिर्देश जारी थे। किताब के मुताबिक, उस एक इंटरव्यू में अमिताभ के साथ अपनी तुलना करने पर राजेश बेटियां नाराज हो गईं कि उन्होंने बी को ‘क्लर्क’ कह डाला। किताब में लिखा गया है, “किसी इंटरव्यू में अमिताभ की अमिताभ की आंखों से जुड़ी यादें भड़कती हैं,” क्लार्क टाइम के पाबंद होते हैं। मैं कोई क्लार्क नहीं एक कलाकार हूँ। मेरा मन किसी का दास नहीं। मैं अपनी सहजता का मालिक हूं।”

इसलिए डर गए थे गोविंदा
बॉलीवुड में अमिताभ बच्चन समय पर आने के लिए मशहूर हैं। साल 1998 में ‘बड़े मियां छोटे मियां’ में डायरेक्टर डेविड शॉक ने गोविंदा के साथ अप्रोच किया। कहा जाता है कि जब गोविंदा को भनक ने फिल्म में शुरू किया तो वह अमिताभ संग स्क्रीन शेयर करेंगे तो पहले काफी खुश होंगे, हालांकि बाद में काफी डर गए। कहा जाता है कि गोविंदा भी अक्सर सेट पर आने देते थे, इसलिए वह काफी घबराए हुए थे। हालांकि उन दिनों गोविंदा भी नए-नए थे जबकि अमिताभ बच्चन सुपरस्टार बन गए थे।

टैग: अमिताभ बच्चन, अमिताभ बच्चन, बॉलीवुड फिल्में, मनोरंजन समाचार।, मनोरंजन विशेष, गोविंदा, राजेश खन्ना, पुनरावर्तन

Source link