फ़रवरी 5, 2023

NEP 2020: गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा से ही निकलेगा ठित का रास्ता, खुलेंगे अवसर के द्वार

NEP 2020: गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा से ही निकलेगा ठित का रास्ता, खुलेंगे अवसर के द्वार

NEP 2020: गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा से ही निकलेगा ठित का रास्ता, खुलेंगे अवसर के द्वार

बोर। नई सदी में सबसे युवा आबादी वाला देश भारत की शिक्षा जगत के सामने आधुनिक विज्ञान और तकनीक को लेकर गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने की सबसे बड़ी चुनौती है, इस काम में शिक्षकों की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। यह विचार यहां क्राइस्ट कॉलेज में नई राष्ट्रीय नीति-2020 में दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी में प्रो.पुष्पेन्द्र पाल सिंह और प्रो. रमेश बाबू ने कहा। संगोष्ठी में देश भर के विभिन्न राज्यों के शोधार्थियों की ओर से 42 शोध पत्र प्रस्तुत किए गए।

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020: इस राष्ट्रीय संगोष्ठी में मुख्य वक्ता के रूप में अवसर और जोखिम विषय का आयोजन किया गया। रमेश बाबू ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति (राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020) से जुड़े हर पहलू पर प्रकाश डाला। साथ ही उन्होंने शिक्षकों की भी भूमिका, अवसर और वर्गों पर चर्चा की। संगोष्ठी के वक्ता प्रो. पुष्पेन्द्र पाल सिंह ने विद्यार्थियों को केंद्रित शिक्षा पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में छात्रों के लिए उपयोगी नई वैज्ञानिक, आधुनिक तकनीक का उपयोग प्राथमिकता पर होना चाहिए। उन्होंने नई शिक्षा नीति में अकादमिक बैंक और क्रेडिट पर प्रकाश डाला।

आपके शहर से (भोपाल)

मध्य प्रदेश
  • शाहरुख के प्रशंसकों की दीवानगी, 'पठान' के लिए पूरा थिएटर बुक, फिल्म के लिए बदला शो का समय

    शाहरुख के प्रशंसकों की दीवानगी, ‘पठान’ के लिए पूरा थिएटर बुक, फिल्म के लिए बदला शो का समय

  • बागेश्वर धाम के समर्थन में बीजेपी के पूर्व विधायक के महागठबंधन, धीरे-धीरे चंद्र शास्त्री को हनुमान का अवतार बताया

    बागेश्वर धाम के समर्थन में बीजेपी के पूर्व विधायक के महागठबंधन, धीरे-धीरे चंद्र शास्त्री को हनुमान का अवतार बताया

  • Satna News: सीएम शिवराज पहुंचे मैहर मां शारदा के नए दर्शन, रोपवे ट्रॉली से फूलों को दी सजा

    Satna News: सीएम शिवराज पहुंचे मैहर मां शारदा के नए दर्शन, रोपवे ट्रॉली से फूलों को दी सजा

  • 'पठान' का विरोध : हिंदू संगठनों ने आपत्तिजनक नारे लगाए, मुस्लिम समुदाय ने किया थाने का अपमान

    ‘पठान’ का विरोध : हिंदू संगठनों ने आपत्तिजनक नारे लगाए, मुस्लिम समुदाय ने किया थाने का अपमान

  • दूसरे दिन ही दो ब्रेक हुई मध्य प्रदेश की बिजली कर्मचारियों की हड़ताल, कुछ काम पर लौटाएं, जानें कारण

    दूसरे दिन ही दो ब्रेक हुई मध्य प्रदेश की बिजली कर्मचारियों की हड़ताल, कुछ काम पर लौटाएं, जानें कारण

  • मंडला : चिराग में तन्हा अँधेरा! गणतंत्र दिवस मनाने के लिए इस ग्राम पंचायत में नेता मांग रहे चंदा

    मंडला : चिराग में तन्हा अँधेरा! गणतंत्र दिवस मनाने के लिए इस ग्राम पंचायत में नेता मांग रहे चंदा

  • गणतंत्र दिवस 2023: देश के 16 राज्यों में भेजे जाते हैं फॉरवर्ड में बने तिरंगे

    गणतंत्र दिवस 2023: देश के 16 राज्यों में भेजे जाते हैं फॉरवर्ड में बने तिरंगे

  • पठान फिल्म विवाद : कहीं शाहरुख का पुतला जगमगाया, कहीं पोस्टर फेस, सिनेमाघर के बाहर हनुमाना चालीस

    पठान फिल्म विवाद : कहीं शाहरुख का पुतला जगमगाया, कहीं पोस्टर फेस, सिनेमाघर के बाहर हनुमाना चालीस

  • 2000 लीटर विदेशी शराब, 3775 लीटर देसी दारू, सैकड़ों समुद्र तट बियर, 4 करोड़ की एडवाइस पर बुलडोजर चला

    2000 लीटर विदेशी शराब, 3775 लीटर देसी दारू, सैकड़ों समुद्र तट बियर, 4 करोड़ की एडवाइस पर बुलडोजर चला

  • हे भगवान! टू-व्हीलर शो से एक-एक कर गलत हो गए 35 दावे, वजह जानकर रह जाएंगे दंग

    हे भगवान! टू-व्हीलर शो से एक-एक कर गलत हो गए 35 दावे, वजह जानकर रह जाएंगे दंग

  • BJP New HQ: कभी हाजी साहब के मकान में किराए पर था बीजेपी ऑफिस! अब जी+8 हाईटेक बिल्डिंग

    BJP New HQ: कभी हाजी साहब के मकान में किराए पर था बीजेपी ऑफिस! अब जी+8 हाईटेक बिल्डिंग

मध्य प्रदेश

संगोष्ठी के उद्घाटन समारोह के प्रमुख अतिथि के रूप में मप्र उच्च शिक्षा विभाग के उपायुक्त डॉ. धीरे-धीरे शुक्ला, सेंट पॉल प्रोविंस भोपाल के फादर जस्टिन, कॉलेज के प्राचार्य फादर जॉनसन, डायरेक्टर फादर डोमिनिक और देश के विभिन्न राज्यों के खोजकर्ता उपस्थित हुए। डॉ. दिवाकर सिंह ने देश के विभिन्न राज्यों से 42 शोध पत्र संगोष्ठी के चार लिए गए में प्रस्तुत किए। संगोष्ठी के संबंध में संबंधित विषय मनोविज्ञान। एफ. एस खान, डॉ. नीति दत्ता, प्रो. पुष्पेन्द्र पाल सिंह, डॉ. इंद्रजीत दत्ता की उपस्थिति में संचालित किया गया।

Tags: नई शिक्षा नीति 2020

Source link